Article24news

तुलसी के पत्तों से डायबिटीज से लेकर स्ट्रेस तक को राहत मिल सकती है

tulsi leaves

tulsi leaves

बात चाहे गले की खराश दूर करने की हो या फिर स्ट्रेस लेवल कम करने की, लोग अक्सर एक दूसरे को तुलसी के पत्तों की चाय पीने की सलाह देते हुए नजर आते हैं। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार तुलसी का पौधा घर पर रखने से घर की नकारात्मकता दूर होती है। लेकिन क्या आप यह बात जानते हैं कि तुलसी का सिर्फ धार्मिक महत्व ही नहीं है बल्कि आयुर्वेद में तो तुलसी को सेहत के लिए वरदान तक माना जाता है।

तुलसी के पत्तों का सेवन करने के फायदे-

  1. श्वास नली की सेहत: तुलसी पत्तियों में ऐसी गुणकारी विशेषताएं होती हैं जो श्वासनली संबंधी विकारों में मदद कर सकती हैं। उबाली हुई तुलसी की पत्तियों से आने वाली भाप नाक की बंदिशों को दूर करने और सांस लेने में सहायक हो सकती है।
  2. एंटीऑक्सीडेंट गुणधर्म: तुलसी में एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं जो विषाक्तता को कम करने, ऑक्सिडेटिव तनाव को कम करने और फ्री रेडिकल्स द्वारा की गई सेल क्षति को रोकने में मदद कर सकते हैं। यह उम्र को देर करने, स्वस्थ रहने में मदद कर सकता है।
  3. त्वचा की देखभाल: तुलसी की पत्तियों से बनी पेस्ट को लगाना या तुलसी के निर्यासों का उपयोग स्किनकेयर में करने से चेहरे पर दाग-धब्बों को कम करने, मुंहासों को ठीक करने और त्वचा को निखारने में मदद मिल सकती है।
  4. मुँह की स्वच्छता: तुलसी की पत्तियों को चबाने से मुँह की स्वच्छता बनी रहती है, यह मुँह में बैक्टीरिया को खत्म करती है जो कैविटी, बदबू और मसूड़ों की समस्याओं का कारण बन सकते हैं। कुछ टूथपेस्ट और माउथवॉश में तुलसी के निर्यासों का भी उपयोग होता है।
  5. पाचन संबंधी समस्याएँ: तुलसी को खाने के बाद या तुलसी की चाय पीने से पाचन सिस्टम में सुधार होता है, जिससे पेट की समस्याओं में राहत मिलती है।
  6. बालों की देखभाल: तुलसी के पेस्ट को बालों पर लगाने से रूसी, बालों की रूखाई को कम करने और स्वस्थ बालों की ग्रोथ में मदद मिल सकती है।
  7. मूड एवं मानसिक स्थिति: कुछ अध्ययनों के मुताबिक, तुलसी की पत्तियों में एडाप्टोजेनिक गुण हो सकते हैं, जो शरीर को तनाव से निपटने में मदद कर सकते हैं और मानसिक स्पष्टता में सुधार कर सकते हैं।
  8. हृदय स्वास्थ्य: तुलसी में पाया गया तनाव कम करने और रक्तचाप को नियंत्रित करने का कहीं असर हो सकता है, जो हृदय स्वास्थ्य को बढ़ावा देने में मदद कर सकता है।
  9. गर्मी की दिक्कतों में मदद: तुलसी का प्रयोग गर्मी के दिनों में राहत दिलाने में मदद कर सकता है। तुलसी का रस या पत्तियों का सेवन ठंडा कर सकता है और देह को ठंडा महसूस कराने में मदद कर सकता है।
  10. संक्रमण से लड़ाई: तुलसी में पाए जाने वाले विषाक्तता नाशक तत्व संक्रमण से लड़ने में मदद कर सकते हैं। इससे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि हो सकती है।
  11. वजन नियंत्रण: कुछ अध्ययनों में पता चला है कि तुलसी का सेवन करने से वजन नियंत्रण में मदद मिल सकती है, क्योंकि यह मेटाबोलिज्म को बढ़ा सकता है और वजन प्रबंधन में सहायता कर सकता है।
  12. हेयर केयर: तुलसी का प्रयोग बालों की सेहत को बढ़ावा देने में मदद कर सकता है, इससे बालों की ग्रोथ में बढ़ोतरी हो सकती है और बालों को मजबूती मिल सकती है।
  13. शरीर की सार्वजनिक सुरक्षा: तुलसी में मौजूद गुणकारी तत्वों के कारण, यह शरीर को अन्य कई रोगों से बचाने में मदद कर सकती है।
  14. हर्बल टॉनिक के रूप में: तुलसी का सेवन एक प्रकार के हर्बल टॉनिक के रूप में भी किया जा सकता है, जो शरीर को शक्ति प्रदान कर सकता है और स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में मदद कर सकता है।

तुलसी के प्रयोग को बढ़ावा देने से पहले, सलाहकार या चिकित्सक से संपर्क करके इसके सेवन की मात्रा और तरीके को बेहतर समझना जरूरी है।

Exit mobile version